REET ONLINE TEST

कक्षा 10 राजस्थान का इतिहास एवं संस्कृति (Class 10 online test 05)

कक्षा 10 राजस्थान का इतिहास एवं संस्कृति (class 10 online test 05)

1.सभी प्रश्न करने अनिवार्य है।

2.प्रत्येक प्रश्नों के अंक समान है।

3.टेस्ट में नकारात्मक अंक नही है।

4.टेस्ट में कुल 20प्रश्न दिए हुए हैं।

1.

किस चित्रशाला को तस्वीरों रो कारखाना के नाम से पुकारा जाता है ?

 
 
 
 

2.

फड़ वाचन का कार्य कौन करते हैं ?

 
 
 
 

3.

पक्षियों को महत्त्व देने वाली चित्रशैली है ?

 
 
 
 

4.

फड़ से संबंधित श्रीलाल जोशी किस जिले के निवासी हैं?

 
 
 
 

5.

1260 ई. का श्रावकप्रतिक्रमनसूत्रचूर्णि नामक चित्रित ग्रंथ मेवाड़ के किस शासक के काल मे चित्रित किया गया ?

 
 
 
 

6.

राजस्थान में सर्वाधिक प्राचीन उपलब्ध चित्रित ग्रंथ 1060 ई. में रचित ओध निर्युक्ति वृत्ति एवं दस वैकालिका सूत्र चूर्णि के भंडार कहाँ से मिले ?

 
 
 
 

7.

साँझी का सम्बंध किस देवी से है ?

 
 
 
 

8.

महाराणा अमरसिंह के शासन काल मे मेवाड़ का प्रमुख ग्रंथ था ?

 
 
 
 

9.

जयपुर राज्य के उस कारखाने का नाम बताइए जहाँ कलाकार चित्र और लघु चित्र बनाते थे ?

 
 
 
 

10.

राजस्थानी चित्रकला की जन्म भूमि है ?

 
 
 
 

11.

बणी – ठणी किस चित्रशैली से संबंधित है ?

 
 
 
 

12.

पिछवई चित्रांकन किस चित्रशैली की विशेषता है ?

 
 
 
 

13.

सोजत किसके लिए प्रसिद्ध है ?

 
 
 
 

14.

प्रसिद्ध कृति ढोला मारू (1592 ई.) जो राष्ट्रीय संग्रहालय , नई दिल्ली में सुरक्षित है किसके शासनकाल में चित्रित की गई ?

 
 
 
 

15.

जमनादास , छोटेलाल ,बक्साराम व नंदलाल चित्रकला की किस शैली से संबद्ध है ?

 
 
 
 

16.

मांगीलाल मिस्त्री की प्रसिद्ध का क्षेत्र है ?

 
 
 
 

17.

सिंहासन , बत्तीसी , पृथ्वीराज संयोगिता और अमरसिंह राठौड़ आदि है ?

 
 
 
 

18.

भागवत पुराण का ‘परिजात अवतरण’ (1540 ई.) मेवाड़ के किस चित्रकार की कृति थी ?

 
 
 
 

19.

बणी – ठणी पर भारत सरकार द्वारा कब डाक टिकट जारी की?

 
 
 
 

20.

सन 1916 ई. में राजस्थानी चित्रशैली का सर्वप्रथम वैज्ञानिक विभाजन अपनी पुस्तक “राजपूत पेंटिंग्स” में किसने किया ?

 
 
 
 

इन्हें भी पढ़े – 

कक्षा 6 सामाजिक विज्ञान

कक्षा 7 सामाजिक विज्ञान 

कक्षा 8 सामाजिक विज्ञान 

कक्षा 9 सामाजिक विज्ञान 

कक्षा 10 सामाजिक विज्ञान

7 Comments

Leave a Comment