Animal Attendant Online Test 02 पशु परिचर के लिए सामान्य ज्ञान के महत्त्वपूर्ण प्रश्न

Animal Attendant Test पशु परिचर के लिए प्रतिदिन ऑनलाइन टेस्ट सीरिज । इसके माध्यम से आप प्रतिदिन टेस्ट देकर पशु परिचर परीक्षा के लिए लाभ ले सकते है । ये टेस्ट सीरिज बिलकुल निश्शुल्क है , प्रतिदिन रैंक लिस्ट जारी की जाती है , इसलिए आप हमारे टेलीग्राम से जुड़ कर रैंक लिस्ट देख सकते है ।

Animal Attendant Online Test
                                                                                                                                                           Animal Attendant Online Test

नीचे ऑनलाइन टेस्ट में 20 प्रश्न दिए गए है  । सभी प्रश्न आगामी प्रतियोगिता परीक्षा के लिए महत्त्वपूर्ण है । इसलिए आप इन सभी प्रश्नो का टेस्ट जरूर दे । टेस्ट देने के बाद आपको अपना  रिजल्ट टेस्ट समाप्त होने के तुरंत बाद व्याख्या सहित मिलेंगा ।

Note – टेस्ट देने से पूर्व आपको Logn in करना होगा । अपनी डिटेल भरने के बाद ईमेल पर वेरिफिकेशन आयेगा , उसके बाद आपके सामने Dashbaurd दिखाई देगा । Dashbaurd से आप अपनी आवश्यकता अनुसार टेस्ट का चयन कर सकते है । 

प्रतियोगिता परीक्षा की टेस्ट सीरिज प्राप्त करने के लिए आप हमारे चैनल से जुड़ सकते है ।

JOIN WHATSAPP CLICK HERE 
JOIN TELEGRAM CLICK HERE 

Animal Attendant Test

1.सभी प्रश्न करने अनिवार्य है।

2. सभी प्रश्नों के अंक समान है।

3. पशु परिचर टेस्ट सीरीज में नकारात्मक अंक एक चौथाई है।

4. टेस्ट देने के बाद व्याख्या सहित उत्तर VIEW KEYS में दे सकते है।                        

START TEST

Animal Attendant Test 02

  1. मुहणौत नैणसी ने गुर्जर प्रतिहारों की कितनी शाखाओं का वर्णन किया ?
    1. 24
    2. 26
    3. 28
    4. 30
  1. खंडखाद्यक नामक ग्रंथ की रचना किसने की ?
    1. कवि माघ
    2. नारायण
    3. गौतम ऋषि
    4. ब्रह्मगुप्त
  1. कुवलयमाला ग्रंथ के रचनाकार उद्योतन सूरी किस गुर्जर प्रतिहार शासक के दरबारी कवि थे?
    1. रज्जिल
    2. कक्कूक
    3. यशोवर्धन
    4. वत्सराज
  1. जिस प्रकार पतंगे अग्नि में गिरते है , उसी प्रकार आंध्र , सिंध , विदर्भ और कलिंग के नरेश नागभट्ट द्वितीय की ओर खींचते हैये कथन किस अभिलेख किया गया ?
    1. बग्राम अभिलेख
    2. बुचकला अभिलेख
    3. दौलतपुर अभिलेख
    4. ग्वालियर अभिलेख
  1. किस गुर्जर प्रतिहार शासक को ग्वालियर प्रशस्ति में म्लेच्छों का दमनकारक कहा गया ?
    1. नागभट्ट प्रथम
    2. वत्सराज
    3. नागभट्ट द्वितीय
    4. मिहिरभोज
  1. नागभट्ट द्वितीय एक वीर , साहसी , कूटनीतिज्ञ , साहित्य प्रेमी व धार्मिक प्रवृत्ति वाला शासक था , इन्होंने किस ग्रंथ की रचना की?
    1. वृहत कथाकोश
    2. बलि – प्रबन्ध
    3. पम्प भारत
    4. प्रभावक चरित
  1. गुर्जर प्रतिहार वंश की मंडोर शाखा के किस शासक ने अपनी राजधानी मंडोर से मेड़ता स्थानांतरित की थी ?
    1. बाउक
    2. रज्जिल
    3. नागभट्ट प्रथम
    4. कक्कूक
  1. कन्नौज को लेकर त्रिपक्षीय संघर्ष की शुरुआत किस गुर्जर प्रतिहार शासक ने की थी ?
    1. मिहिरभोज
    2. वत्सराज
    3. महेन्द्रपाल
    4. महिपाल प्रथम
  1. कल्हण कृतराजतरंगिणीमें गुर्जर प्रतिहार के किस शासक का वर्णन है ?
    1. शिलुक
    2. मिहिरभोज
    3. नरभट्ट
    4. महेन्द्रपाल प्रथम
  1. प्रतिहारों की कौनसी शाखा सबसे प्राचीन मानी जाती है ?
    1. जालौर
    2. मारवाड़
    3. मंडोर
    4. उज्जैन
  1. मंडोर की वंशावली का प्रारम्भ किस शासक से मानी जाती है ?
    1. भोगभट्ट
    2. कक्क
    3. रज्जिल
    4. दद्द
  1. गुर्जर प्रतिहारों का आदि पुरुष माना जाता है ?
    1. भोगभट्ट
    2. कक्क
    3. हरिश्चंद्र
    4. बाउक
  1. किस ग्रंथ में वत्सराज को रनहस्तिन कहा गया ?
    1. प्रभावक चरित
    2. हरिवंश पुराण
    3. कुवयलमाला
    4. विद्वशाल भंजिका
  1. अरबी यात्री अल मसूदी किस शासक के समय भारत आया था ?
    1. महिपाल प्रथम
    2. महेंद्र पाल प्रथम
    3. यशपाल
    4. राज्यपाल
  1. किस युद्ध में नागभट्ट द्वितीय ने बंगाल के शासक धर्मपाल को हराया था?
    1. कलिंग युद्ध
    2. मुंगेर युद्ध
    3. विदर्भ का युद्ध
    4. कन्नौज का युद्ध
  1. गुर्जर प्रतिहार वंश का अंतिम शासक किसको माना जाता है?
    1. राज्यपाल
    2. महेंद्र पाल प्रथम
    3. यशपाल
    4. गोविंद सेन
  1. निम्नलिखित में से किस विदेशी यात्री ने गुर्जर – प्रतिहार राजवंश की सैन्य शक्ति एवं समृद्धि का उल्लेख किया है ?
    1. अलबरुनी
    2. मार्को पोलो
    3. सुलेमान
    4. अब्दुल रज्जाक
  1. किस ग्रंथ के अनुसार नागभट्ट द्वितीय ने गंगा में जल समाधि ली ?
    1. बाल रामायण
    2. हरविलास
    3. ग्वालियर प्रशस्ति
    4. प्रभावक चरित
  1. मिहिरभोज को आदिवराह की उपाधी किस अभिलेख या प्रशस्ति में दी गई ?
    1. दौलतपुर अभिलेख
    2. बुचकला अभिलेख
    3. बग्राम अभिलेख
    4. ग्वालियर प्रशस्ति
  1. मंडोर के प्रतिहार माने जाते है –
    1. ब्राह्मण
    2. वैश्य
    3. क्षत्रिय
    4. शूद्र

Leave a comment

error: Content is protected !!