RPSC 2ND GRADE GK SYLLABUS IN HINDI PDF वरिष्ठ अध्यापक सामान्य ज्ञान का हिंदी में पाठ्यक्रम

RPSC 2nd Grade GK Syllabus in Hindi PDF 2024 इस पोस्ट में 2nd GRADE  TEACHER ( वरिष्ठ अध्यापक ) के लिए 1 st Paper का syllabus in Hindi PDF के रूप में उपलब्ध करवाया जा रहा है , वरिष्ठ अध्यापक की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के लिए हिन्दी मे ये पाठ्यक्रम उपयोगी सिद्ध होगा।

RPSC 2ND GRADE GK SYLLABUS IN HINDI
RPSC 2ND GRADE GK SYLLABUS IN HINDI

राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित वरिष्ठ अध्यापक प्रतियोगिता परीक्षा (RPSC 2ND GRADE TEACHER) का आयोजन दो प्रश्न पत्र के माध्यम से किया जाएगा। जिसमे प्रथम प्रश्न पत्र में 100 प्रश्न 200 अंको का होगा , जिसमे शिक्षा मनोविज्ञान व समसामयिकी साथ मे होगा। द्वितीय पेपर विषयवार होगा , जिसमे 150 प्रश्न 300 अंको का होगा। प्रत्येक प्रश्न दो नम्बर के साथ अनुत्तरित प्रश्न के साथ होगा।

RPSC SECOND  GRADE TEACHER EXAM PATTERN

S. NO. SUBJECT No of Question Total Marks
1. राजस्थान का भौगोलिक , ऐतिहासिक , सांस्कृतिक और सामान्य ज्ञान 40 80 Marks
2. राजस्थान के संदर्भ में समसामयिकी 10 20 Marks
3. विश्व और भारत का सामान्य ज्ञान 30 60 Marks
4. शैक्षिक मनोविज्ञान 20 40 Marks
  TOTAL 100 200 Marks
1. सभी प्रश्नों के अंक समान है | नेगेटिव मार्किग एक तिहाई होगी    
2. वरिष्ठ अध्यापक पद के लिए प्रतियोगी परीक्षा के लिए प्रश्न पत्र 200 अंक का सामान्य ज्ञान का होगा    
3. प्रश्न पत्र की अवधि दो घंटे की होगी |    

RPSC SECOND GRADE TEACHER 1ST PAPER SYLLABUS IN HINDI PDF

राजस्थान का भौगोलिक, ऐतिहासिक, सांस्कृतिक और सामान्य ज्ञान : –

  • भौतिक विशेषताएं , जलवायु, जल निकासी, वनस्पति, कृषि, पशुधन, डेयरी विकास, जनसंख्या वितरण, विकास, साक्षरता, लिंग अनुपात, धार्मिक संरचना उद्योग, योजना, बजटीय रुझान, प्रमुख पर्यटन केंद्र।

राजस्थान की प्राचीन संस्कृति और सभ्यता – 

  • कालीबंगा,
  • आहाड़ ,
  • गणेश्वर,
  • बैराठ।

8वीं से 18वीं शताब्दी तक राजस्थान का इतिहास

  • गुर्जर प्रतिहार वंश
  • अजमेर के चौहान
  • दिल्ली सल्तनत के साथ संबंध – मेवाड़, रणथंभौर और जालोर।

राजस्थान और मुगल –

  • मेवाड़ के महाराणा सांगा, महाराणा प्रताप, राजसिंह , आमेर के मानसिंह, मारवाड़ के चंद्रसेन, बीकानेर के राय सिंह।

राजस्थान में स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास।

  • 1857 की क्रांति
  • राजनीतिक जागृति
  • प्रजामंडल आंदोलन
  • किसान एवं जनजातीय आंदोलन
  • राजस्थान का एकीकरण

समाज और धर्म 

  • लोक देवता और देवियाँ ।
  • राजस्थान के संत।
  • वास्तुकला – मंदिर, किले और महल।
  • चित्रकला  – विभिन्न स्कूल।
  • मेले और त्यौहार।
  • सीमा शुल्क, कपड़े और गहने।
  • लोक संगीत और नृत्य।
  • भाषा और साहित्य

राजस्थान की राजनीतिक व प्रशासनिक व्यवस्था 

  • राज्यपाल का कार्यालय
  • मुख्यमंत्री और मंत्रिमंडल
  • राज्य सचिवालय और मुख्य सचिव
  • राजस्थान लोक सेवा आयोग
  • राज्य मानवाधिकार आयोग
  • पंचायती राज का संगठन
  • राजस्थान मे राज्य विधानसभा

(ii) राजस्थान के करेंट अफेयर्स:

राज्य स्तर पर सामाजिक-आर्थिक, राजनीतिक, खेल और खेल के पहलुओं से संबंधित प्रमुख समसामयिक मुद्दे और घटनाएं।

(iii) विश्व और भारत का सामान्य ज्ञान –

  • महाद्वीप, महासागर और उनकी विशेषताएं,
  • वैश्विक पवन प्रणाली,
  • पर्यावरणीय समस्याएं,
  • वैश्विक रणनीतियां, वैश्वीकरण और इसके प्रभाव,
  • जनसंख्या प्रवृत्ति और वितरण,

भारत

  • भौतिक विशेषताएं,
  • मानसून प्रणाली,
  • जल निकासी, वनस्पति और
  • ऊर्जा संसाधन

भारतीय अर्थव्ययस्था 

  • भारत में कृषि, उद्योग और सेवा क्षेत्र में वृद्धि और विकास।
  • भारत का विदेश व्यापार: रुझान, संरचना और दिशा।

भारतीय संविधान, राजनीतिक व्यवस्था और विदेश नीति :-

  • भारत सरकार के अधिनियमों के विशेष संदर्भ में भारत का संवैधानिक इतिहास 1919 और 1935 के।
  • भारतीय संविधान- अम्बेडकर की भूमिका, संविधान का निर्माण, मुख्य विशेषताएं,
  • मौलिक अधिकार, मौलिक कर्तव्य, राज्य के नीति निर्देशक सिद्धांत।
  • भारतीय राष्ट्रपति और प्रधान मंत्री के कार्यालय।
  • राजनीतिक दल और दबाव समूह।
  • भारत की विदेश नीति के सिद्धांत और इसके निर्माण में नेहरू का योगदान।
  • भारत और संयुक्त राष्ट्र संघ, विशेष संदर्भ के साथ अंतर्राष्ट्रीय राजनीति में उभरते रुझान वैश्वीकरण के लिए।

(iv) शैक्षिक मनोविज्ञान –

1 शैक्षिक मनोविज्ञान – कक्षा की स्थितियों में शिक्षक के लिए इसका अर्थ, कार्यक्षेत्र और निहितार्थ। विभिन्न मनोवैज्ञानिक और शिक्षा में उनका योगदान।

2. सीखना – इसका अर्थ और प्रकार, सीखने के विभिन्न सिद्धांत और शिक्षक के लिए निहितार्थ, सीखने का हस्तांतरण, सीखने को प्रभावित करने वाले कारक, रचनावादी सीखने।

3. शिक्षार्थी का विकास – शारीरिक, भावनात्मक और सामाजिक विकास, एक व्यक्ति के रूप में बच्चे का विकास- अवधारणा विकास।

4 व्यक्तित्व – अर्थ, सिद्धांत और मूल्यांकन, समायोजन और इसकी क्रियाविधि, कुसमायोजन।

5.बुद्धि और रचनात्मकता – अर्थ, सिद्धांत और माप, सीखने में भूमिका, भावनात्मक बुद्धिमत्ता – अवधारणा और अभ्यास, मानव अनुभूति।

6. प्रेरणा – सीखने की प्रक्रिया में अर्थ और भूमिका, उपलब्धि प्रेरणा।

7 व्यक्तिगत अंतर – अर्थ और स्रोत, विशेष आवश्यकता वाले बच्चों की शिक्षा प्रतिभाशाली और प्रतिभाशाली छात्र, धीमी गति से सीखने वाले, अपराध।

8 विकास और शिक्षा में निहितार्थ – आत्म अवधारणा, दृष्टिकोण, रुचि, आदतें, योग्यता और सामाजिक कौशल।

इन्हे भी देखे : –  2 ND GRADE ONLINE TEST SERIES

ANIMAL ATTENDANT TEST SERIES

RPSC 2ND GRADE OTHER SUBJECT SYLLABUS

SUBJECT DOWNLOAD
संस्कृत CLICK HERE
अंग्रेजी CLICK HERE
सामाजिक विज्ञान CLICK HERE
गणित CLICK HERE
विज्ञान CLICK HERE
हिन्दी CLICK HERE
उर्दू CLICK HERE
पंजाबी CLICK HERE

 

Leave a comment

error: Content is protected !!