WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

POLITICAL

संविधान सभा (Constituent Assembly of India)

संविधान सभा (Constituent Assembly of India)

❖सर्वप्रथम 1935 ई. में कांग्रेस ने संविधान सभा की मांग की ।

❖1940 ई. अगस्त प्रस्ताव – इसके तहत पहली बार ब्रिटिश सरकार द्वारा यह स्वीकार किया गया कि संविधान सभा मे भारतीय सदस्य होंगे और भारतीय सदस्य ही संविधान बनाएंगे।

❖1942 ई. क्रिप्स मिशन – इसके तहत पहली बार संविधान सभा एवं इसके निर्वाचन की प्रक्रिया का निर्धारण किया गया।

❖1946 ई. कैबिनेट मिशन – इसकी सिफारिश के आधार पर संविधान सभा का निर्वाचन 4 जुलाई – अगस्त 1946 ई. में हुआ। 

❖संविधान सभा का चुनाव प्रांतीय विधानमंडल के निम्न सदन के सदस्यों द्वारा आनुपातिक पद्धति के एकल संक्रमणीय मत द्वारा किया गया।

❖कैबिनेट मिशन के तहत संविधान सभा के सदस्यों को तीन श्रेणियों में विभाजित किया गया।

1.मुस्लिम

2.सिक्ख

3.सामान्य

संविधान सभा के सदस्य –

❖संविधान सभा मे कुल सदस्य संख्या – 389

❖296 सदस्य ब्रिटिश भारत से सदस्यों का निर्वाचन किया जाना था ।

❖सबसे ज्यादा ब्रिटिश भारत के सदस्य संयुक्त प्रान्त (55 सदस्य) से थे।

❖296 में से 292 सदस्य प्रान्तों से निर्वाचित तथा 4 सदस्य आयुक्त प्रदेश से निर्वाचित ।

❖93 सदस्य देशी रियासतों के प्रतिनिधि नियुक्त किये जाने थे ।

❖सबसे ज्यादा देशी रियासत के सदस्य मैसूर रियासत (7 ) से थे ।

❖आयुक्त प्रदेश दिल्ली , अजमेर मेरवाड़ा ,बलूचिस्तान , कुर्ग चुनाव के ठीक बाद मुस्लिम लीग ने संविधान सभा का बहिष्कार कर दिया।

❖संविधान सभा की प्रथम बैठक – 9 दिसम्बर , 1946 को अस्थायी अध्यक्ष – सच्चिदानंद सिन्हा 

❖संविधान सभा की द्वितीय बैठक – 11 दिसम्बर , 1946 को स्थायी अध्यक्ष – डॉ. राजेन्द्र प्रसाद

उपाध्यक्ष – H. C. मुखर्जी

सलाहकार – B. N. राव

❖संविधान का पहला प्रारूप B. N. राव ने तैयार किया ।

❖संविधान का मुख्य प्रारूप B. R. अम्बेडकर ने तैयार किया।

❖13 दिसम्बर , 1946 को जवाहरलाल नेहरू ने उद्देश्य प्रस्ताव पेश किया गया जो 22 जनवरी , 1947 को पास किया गया।

❖उद्देश्य प्रस्ताव – यह एक प्रकार से संविधान के लिए संविधान की रूपरेखा थी। इसमे संविधान के मूल आदर्शो की स्थापना की गई । यह एक मार्गदर्शिका थी।

❖संविधान सभा की प्रमुख समितियाँ  व अध्यक्ष

1.संघीय शक्ति समिति – जवाहरलाल नेहरू

2.संघीय संविधान समिति – जवाहरलाल नेहरू

3.प्रांतीय संविधान समिति – सरदार वल्लभभाई पटेल

4.राष्ट्रीय ध्वज के संदर्भ में तदर्थ समिति – डॉ. राजेन्द्र प्रसाद

5.मूल अधिकारों के संदर्भ में उप समिति – जे. बी. कृपलानी

6.अल्प संख्यको के संदर्भ में उप समिति – एच. सी. मुखर्जी

7.प्रारूप समिति – भीमराव अंबेडकर

प्रारूप समिति –

❖इस समिति में कुल सदस्य संख्या – 7

❖अध्यक्ष भीमराव अम्बेडकर

❖अन्य सदस्य –

1.गोपाल स्वामी आयंकर

2.अल्लादी कृष्णा स्वामी अय्यर

3.के. एम. मुंशी

4.सईद मोहम्मद सादुल्ला

5.बी. एल. मिश्र स्वास्थ्य खराब होने के कारण इसके स्थान पर एन. माधवराव 

6.डी. पी. खेतान की मृत्यु होने पर इसके स्थान पर टी. टी. कृष्णामाचारी ।

❖15 अगस्त 1947 के बाद भारत और पाकिस्तान के विभाजन के बाद संविधान सभा मे 299 सदस्य रहे।

❖अंतिम रूप से संविधान सभा पर 284 सदस्यों ने हस्ताक्षर किए ।

जे. पी. नारायण और तेज बहादुर सप्रू ने स्वास्थ्य खराब होने के कारण संविधान सभा से इस्तीफा दे दिया।

❖22 जुलाई 1947 के बाद संविधान सभा ने तिरंगे झंडे को राष्ट्रीय ध्वज के रूप में मान्यता दी।

संविधान सभा मे 12 महिला सदस्य थी।

❖26 नवम्बर 1949 को संविधान बनकर तैयार हो गया।

❖संविधान सभा की अंतिम बैठक 24 जनवरी , 1950 को हुई , जिसमे राष्ट्रीय गीत व राष्ट्रीय गान को मान्यता दी।

❖वर्तमान में संविधान में 24 भाग , 446 अनुच्छेद व 12 अनुसूचियाँ है।

7 वाँ भाग 7 वें संविधान संशोधन द्वारा समाप्त कर दिया गया।

 

 

Leave a Comment

Copyright © 2023. Created by Ranu academy - Powered by Hindisahitya