WhatsApp Group Join Now

Telegram Group Join Now

FIRST GRADE HINDI

हिंदी व्याख्याता टेस्ट 09

।। चंदवरदायी ।।
जन्म – सन 1166 ई./ 1168 ई. (अपरा पुस्तक के अनुसार )
जन्म स्थान – लाहौर
चंदवरदायी भाट जाति के जगता गोत्र के थे ।
चंदवरदायी को हिंदी का पहला कवि और उनकी रचना पृथ्वीराज रासो को हिंदी की पहली रचना मानी जाती है ।
पृथ्वीराज रासो हिंदी का आदिकाव्य कहलाता है ।
इसमें 69 सर्ग है।
पृथ्वीराज रासो को चंदवरदायी के पुत्र जल्हण ने पूरा किया ।

Leave a Comment

Copyright © 2022. Created by Ranu academy - Powered by Hindisahitya